Danitol FAQ's

Pesticide For Pink Bollworm

Friends, Pink bollworm begins to damage your cotton tind and it is found in the early stages of cotton flowers. As soon as the cotton gram is prepared, as soon as the cotton is pollinated with cotton, it goes inside it and starts eating cotton seeds inside the tindae. Due to this, cotton tinned is not well prepared and stains in cotton. Danitol (Pesticide For Pink Bollworm) is a product made of technology that fully controls pink bollworm.

डेनिटोल का टेक्निकल क्या है? (denitol ka teknikal kya hai?)

डेनिटोल एक ऐसी तकनीक से बना प्रोडक्ट है जो गुलाबी सुंडी (इल्ली) पर पूरी तरह नियंत्रण करता है। डेनिटोल का टेक्निकल (denitol ka teknikal) Fenpropathrin 10% EC है।

डेनिटोल कैसे खरीदें? (denitol kaise khareeden?)

डेनिटोल कैसे खरीदें (denitol kaise khareeden?), डेनिटोल खरीदने के लिए हमारी वेबसाइट www.danitolindia.com पर जाएँ और अपनी भाषा चुने उसके बाद कॉन्टैक्ट मेन्यू पर क्लिक करें और सर्च बॉक्स में अपनी लोकेशन डाल कर सर्च करें आपको सुमिटोमो केमिकल के अपने यहाँ के कर्मचारी का टेलीफ़ोन नंबर मिल जायेगा जो आपको बताएँगे की आप अपने क्षेत्र की किस दुकान से डेनिटोल खरीद सकते है।

गुलाबी सुंडी की दवाई? (Gulabi sundi ki dabai?)

दोस्तों गुलाबी सुंडी या इल्ली आपके कपास के टिंडे में नुकसान करना शुरू करती है और शुरुवाती दौर में ये कपास के फूल पर पायी जाती है। ये फूल से कपास के परागकण खाने के साथ-साथ जैसे ही कपास का टिंडा तैयार होता है ये उसके अंदर चली जाती है और टिंडे के अंदर के कपास के बीज को खाना शुरू कर देती है। इस कारण कपास का टिंडा अच्छी तरह से तैयार नहीं हो पाता है, डेनिटोल गुलाबी सुंडी की सबसे अच्छी दवाई (Gulabi sundi ki dabai) है। डेनिटोल एक ऐसी तकनीक से बना प्रोडक्ट है जो गुलाबी सुंडी (इल्ली) पर पूरी तरह नियंत्रण करता है।

डेनिटोल का इस्तेमाल कैसे करें? (Danitol ka istemaal kaise karen?)

आइये अब हम जानते की डेनिटोल का उपयोग कपास की फसल में कैसे करना है। Danitol ka istemaal kaise karen?  गुलाबी सुंडी या इल्ली के रोकथाम के लिए आपको डेनिटोल के कम से कम 3 छिड़काव करने होंगे, आइये जानते है की ये छिड़काव आपको कब और कितनी मात्रा में करने है। कपास की बुआई के 40 से 45 दिन में कपास की फसल में फूल अवस्था पाई जाती है। जैसे ही आपके कपास में 20 से 30% फूल आना शुरू हो जाता है उसी दौरान आपको 15 लीटर पानी में 40 मिली डेनिटोल लेकर उसका छिड़काव आपको अपनी कपास की फसल पर पहला छिड़काव करना है। इस पहले छिड़काव के बाद आपको डेनिटोल का दूसरा छिड़काव पहले छिड़काव के 13 से 15 दिन के बाद करना है। इस छिड़काव की मात्रा भी 40 मिली प्रति 15 लीटर पानी में ही रहेगी। तीसरा छिड़काव आपको दूसरे छिड़काव के 15 दिन बाद करना है इस छिड़काव की मात्रा भी 40 मिली प्रति 15 लीटर पानी में ही रहेगी।